26 June, 2020

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने CBSE परीक्षाओं पर फैसले का किया स्वागत, स्टूडेंट्स की सुरक्षा को बताया प्राथमिकता

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद CBSE की लंबित परीक्षाओं को लेकर अब स्थिति साफ हो गई है। परीक्षाओं के लेकर दो दिन हुई सुनवाई के दौरानबोर्ड ने 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया। साथ ही रिजल्ट के लिए अपनाई जाने वाली असेसमेंट स्कीम के बारे में कोर्ट को जानकारी दी।जस्टिस एएम खानविलकर की अगुआई वाली 3 जजों की बेंच ने इसके साथ हीअन्य अदालतों में इस विषय पर विचाराधीन सभी मुकदमों को डिस्पोज-ऑफ कर दिया। इस फैसले के बाद सीबीएसई ने दोपहर 1 बजे अपना नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का किया स्वागत

वहीं इस पर अब मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने ट्वीट कर सुप्रीम कोर्ट, प्रधानमंत्री और गृहमंत्री का CBSE के प्रस्ताव को स्वीकार करने पर आभार व्यक्त किया है। इसके अलावा केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कोर्ट में बोर्ड द्वारा लिए गए फैसले के बारे में भी ट्वीट के जरिए जानकारी दी।

CBSE के फैसलोंके बारे में दी जानकारी

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि “मुझे यह बताते हुए भी खुशी हो रही है बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम 15 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा। मैं यह दोहराना चाहूंगा कि छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के स्वास्थ्य की सुरक्षा करना हमारी पहली प्राथमिकता है।”साथ ही उन्होनें बोर्ड की तरफ से दिए वैकल्पिक परीक्षा के ऑप्शन के बारे में भी लिखा कि "CBSE की मूल्यांकन पद्धति से असंतुष्ट स्टूडेंट्स को अपना प्रदर्शन सुधारने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होने पर परीक्षा लिखने का भी अवसर मिलेगा ।"

####



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Union Education Minister tweeted information about CBSE exams, thanked Supreme Court and Prime Minister for the decision


Note: This Post Credit goes to Danik Bhaskar
Subscribe to Result and Vacancy Alert by Email