26 June, 2020

7 बड़े पाइंट्स है CBSE बोर्ड के नोटिफिकेशन ड्राफ्ट में, रिजल्ट सुधारने के लिए ऑप्शनल एग्जाम देना न देना बच्चों की मर्जी पर छोड़ा

सीबीएसई बोर्ड की 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाओं को लेकर शुक्रवार को भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। जस्टिस एएम खानविलकर की अगुआई वाली 3 जजों की बेंच नेकेंद्र और सीबीएसई से कहा कि परीक्षाएं कैंसिल करने के लिए नोटिफिकेशन जारी करें। साथ ही कहा कि एसेसमेंट के आधार पर स्टूडेंट्स को मार्क्स देने की दिशा में आगे बढ़ें। कोर्ट ने बोर्ड की तरफ से पेश किए डाफ्ट्र नोटिफिकेशन को मंजूर करते हुए इसे जारी करने की अनुमति भी दी है।कोर्ट में पेश किए गए इस ड्राफ्ट में बोर्ड ने परीक्षा की तारीखों के ऐलान के बाद हालात में हुए बदलाव और राज्य सरकार द्वारा मिल रहे आवेदन के बाद इन बातों पर फैसला किया-

  1. कक्षा दसवीं- बारहवीं की 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली सभी परीक्षाएं रद्द कर दी गई हैं।
  2. परीक्षाओं के रद्द होने के बाद अब 10वीं- 12वीं का रिजल्ट सीबीएसई की कंपीटेंट कमेटी द्वारा सुझाए गए असेसमेंट स्कीम के आधार पर जारी किया जाएगा।
  3. असेसमेंट स्कीम द्वारा तैयार किया गया रिजल्ट 15 जुलाई 2020 तक जारी कर दिया जाएगा, जिससे स्टूडेंट्स देश- विदेश के उच्च शिक्षण संस्थानों में एडमिशन के लिए आवेदन कर सकें।
  4. इसके अलावा सीबीएसई कक्षा बारहवीं के स्टूडेंट्स के लिए 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाले पेपर के लिए हालात सामान्य होने पर ऑप्शनल एग्जामिनेशन का भी आयोजन करेगा। इन परीक्षाओं में वह स्टूडेंट शामिल हो सकते हैं, जो एसेसमेंट स्कीम के बाद जारी हुए अपने रिजल्ट से संतुष्ट नहीं है। ऐसे में ऑप्शनल एग्जामिनेशन में मिले मार्क्स को ही फाइनल माना जाएगा।
  5. क्लास 10वीं के स्टूडेंट के लिए अन्य कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी और उनका रिजल्ट सीबीएसई की एसेसमेंट स्कीम के आधार पर ही तय किया जाएगा।
  6. वहीं अगर 12वीं के स्टूडेंट्स वैकल्पिक परीक्षा में शामिल नहीं होते हैं, तो उनका रिजल्ट भी सीबीएसई की मार्किंग स्कीम के आधार पर ही तय किया जाएगा।

7. असेसमेंट स्कीम:

(a) कक्षा 10वीं और 12वीं दोनों उन सभी छात्र-छात्राओं के लिए जिन्होंने अपनी सभी परीक्षाएं पूरी कर ली हैं, उनका रिजल्ट परीक्षा में उनके प्रदर्शन के आधार पर घोषित किया जाएगा।

(b) उन सभी स्टूडेंट्स के लिए जिन्होंने परीक्षाओं में 3 से अधिक विषयों के पेपर दिए हैं, उनमें से तीन विषयों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले विषयों में प्राप्त अंकों का औसत उन विषयों में दिया जाएगा, जिनकी परीक्षाएं आयोजित नहीं की गई हैं।

(c) उन छात्रों के लिए जो केवल 3 विषयों की परीक्षा में उपस्थित हुए हैं, उनमें से सर्वश्रेष्ठ दो में प्रदर्शन करने वाले विषयों में प्राप्त अंकों को उन विषयों में प्रदान किया जाएगा जिनकी परीक्षाएं आयोजित नहीं की गई हैं।

(d) मुख्यतः दिल्ली से 12वीं कक्षा के ऐसे बहुत कम छात्र हैं, जो केवल 1 या 2 विषयों में परीक्षा में शामिल हुए हैं। उनका रिजल्ट इंटरनल/ प्रैक्टिकल/ प्रोजेक्ट असेसमेंट में प्रदर्शन के आधार पर घोषित किया जाएगा।

यदि स्टूडेंट्स चाहते हैं , तो उनके प्रदर्शन को बेहतर बनाने के लिए सीबीएसई द्वारा वैकल्पिक परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी। इन छात्रों के परिणाम भी अन्य छात्रों के साथ घोषित किए जाएंगे।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
CBSE Board Exam 10th 12th Latest News| 7 big points in CBSE board notification draft, not giving optional exam to improve results, left to children


Note: This Post Credit goes to Danik Bhaskar
Subscribe to Result and Vacancy Alert by Email