23 June, 2020

कोई भी ऐप कैमरा या माइक्रोफोन एक्सेस करेगा तो स्क्रीन पर मिल जाएगा अलर्ट, एपल लाई नया ऐप प्राइवेसी फीचर

डब्ल्यूडब्ल्यूडीसी 2020 में एपल ने अपनी ऐप प्राइवेसी फीचर में भी काफी इम्प्रूवमेंट किया है। डेटा प्राइवेसी को लेकर कंपनी हमेशा से ही काफी सजग रही हैं। डेटा चोरी जैसी समस्याओं से बचने के लिए एपल ने नए iOS14 के साथ ऐप प्राइवेसी फीचर को भी अनाउंस किया है। इस नए ऐप प्राइवेसी फीचर के जरिए यूजर्स ट्रैक कर सकेंगे कि कहीं कोई ऐप उनकी लोकेशन डेटा या कोई भी निजी जानकारी शेयर तो नहीं कर रहा है। साथ ही, यह भी पता लग सकेगा कि किसी ऐप ने आईफोन के माइक या कैमरा तो एक्सेस नहीं किया है। कोई भी ऐप अगर यूजर शेयर कर रही होंगी तो यूजर को स्क्रीन पर इंडिकेटर के जरिए अलर्ट मिल जाएगा।

कैमरा या माइक्रोफोन एक्टिवेट हुआ तो यूजर को अलर्ट मिलेगा
एपल के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग क्रेग फेडेरिगी ने इस फीचर को अनाउंस करते हुए कहा कि हमारे सारे प्रोडक्ट्स प्राइवेसी प्रिसिंपल्स के दायरे में रहते हैं। इन नए फीचर के जरिए यूजर्स अपनी लोकेशन की जानकारी को सीमित कर सकते हैं। एपल ने इसके लिए रिकॉर्डिंग इंडिकेटर जोड़ा है। जैसे ही डिवाइस का कैमरा या माइक्रोफोन एक्टिवेट होगा, यह इंडिकेटर स्टेटस बार के पास ब्लिंक करने लगेगा।

थर्ड पार्टी ऐप को ब्लॉक कर सकेंगे यूजर
एपल का यह नया अपडेट यूजर्स के डिवाइस की लोकेशन इन्फॉर्मेंशन किसी भी ऐप के जरिए शेयर नहीं करेगा और उसे सीमित कर देगा। एपल ने इसके अलावा ऐप परमिशन के लिए लेबल को भी इंट्रोड्यूस किया है। जो कि यह तय करेगा कि किसी भी ऐप के लिए कितना डेटा जरूरी होगा। यह फीचर यूजर को इन लेबल्स को दो कैटेगरी के साथ उपलब्ध होगा, जिसमें यूजर्स ऐप के साथ लिंक डेटा और ट्रैक में इस्तेमाल डेटा देख सकेंगे। साथ ही एपल थर्ड पार्टी ऐप ब्लॉकिंग और लोकेशन ट्रैकिंग ब्लॉकिंग फीचर को भी iOS 14 के साथ पेश किया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
एपल ने इसके लिए रिकॉर्डिंग इंडिकेटर जोड़ा है, जैसे ही डिवाइस का कैमरा या माइक्रोफोन एक्टिवेट होगा, यह इंडिकेटर स्टेटस बार के पास ब्लिंक करने लगेगा


Note: This Post Credit goes to Danik Bhaskar
Subscribe to Result and Vacancy Alert by Email