23 June, 2020

एपल कार-की से लैस पहली कार होगी बीएमडब्ल्यू 5 सीरीज, फोन टच करते ही खुल जाएंगे कार के दरवाजे

बीएमडब्लू ने अपनी कारों और एसयूवी में वर्चुअल कार-की फंक्शन के लिए एपल के साथ साझेदारी की है। सोमवार को हुए इवेंट में एपल ने अपना एपल कार-की फीचर पेश किया। इस फीचर की मदद से बिना फिजिकल-की के भी कार को अनलॉक किया जा सकेगा। यह एनएफसी चिप के जरिए से काम करता है। बीएमडब्ल्यू इस फंक्शन को सबसे पहले अपनी फेसलिफ्ट 5 सीरीज सेडान में पेश करेगी। बीएमडब्ल्यू इसे अपने वाहनों में बीएमडब्ल्यू डिजिटल-की के तौर पर बाजार में पेश करेगी।

वर्चुअल कार-की क्या होती है?

  • वर्चुअल-की एक डिजिटल-की है, जो यूजर के फोन में लगी एनएफसी चिप की मदद से वाहन को अनलॉक करती है। फिलहाल यह सुविधा वैश्विक रूप से कुछ ही वाहनों में उपलब्ध है, एपल डिवाइसों में इसे पहली बार पेश किया जा रहा है। बीएमडब्ल्यू पहले से ही कुछ मॉडलों में एंड्रॉयड बेस्ड डिवाइस के लिए इस टेक्नोलॉजी को ऑफर करती है, हालांकि यह पहली बार है जब सिस्टम एपल डिवाइस यूजर्स के लिए उपलब्ध कराया जा रहा है।

एपल कार-की क्या है और कैसे काम करती है?

  • सोमवार से शुरू हुई एपल की वर्ल्डवाइड डेवलपर कॉन्फ्रेंस (WWDC) में कंपनी ने एपल कार-की को iOS14 आईफोन ऑपरेटिंग सिस्टम के नए फीचर के तौर पर पेश किया। जो आने वाले महीनों में रिलीज़ किया जाएगा। यह फीचर अपडेटेड iOS 13 में भी काम करेगा।
  • सबसे पहले बीएमडब्लू मॉडल में पेश की जाने वाली एपल कार-की आईफोन के UWB U1 चिप पर बनाया गया है। एपल के अनुसार यह सभी कार निर्माताओं को वाहन के नजदीक होने का पता लगाने की अनुमति देगा, भले ही वह की वाहन मालिक के पर्स में रखी हो या बैग में।
  • अपने वाहन को अनलॉक करने के लिए यूजर को एनएफसी से लैस एपल डिवाइस जैसे आईफोन या एपल वॉच को वाहन के एनएफसी रीडर पैनल के बगल में पकड़ना होगा, जो आमतौर पर दरवाज़े के हैंडल में लगे होता हैं।
  • इसके बाद सिस्टम वाहन को अनलॉक करने के लिए फेस आईडी या टच आईडी के जरिए से वाहन अनलॉक करने की रिक्वेस्ट की पुष्टि करेगा। यह पूरी प्रोसेस 'एक्सप्रेस मोड' के माध्यम से तेजी से होती है।
  • वाहन मालिक इस वर्चुअल-की की कॉपी तेजी से बनाकर iMessageto की मदद से अपने पांच फैमिली मेंबर्स के साथ शेयर कर सकते हैं, ताकि वे भी बिना फिजिकल-की के कार को अनलॉक कर सके।
  • कार के अंदर जाने पर यूजर को अपना एपल डिवाइस कार के वायरलेस चार्जर पैनल पर रखने होगा, जिसके बाद कार का इग्निशन बटन दबाएं जाने पर कार स्टार्ट होगी।
  • बीएमडब्ल्यू का कहना है कि सिस्टम तब भी काम करेगा जब यूजर की आईफोन की बैटरी खत्म हो जाएगी। डिवाइस के मॉडल के आधार पर भी एपल कार-की कई घंटों तक काम करेगी। हालांकि, यदि यूजर डिवाइस को मैन्युअली स्विच ऑफ करना चाहते हैं तो फीचर केवल एक बार डिवाइस को वापस चालू करने पर काम करेगा।

कौन की कार और एसयूवी में एपल कार-की काम करेगी?

  • एपल कार-की को पहली बार जल्द ही बाजार में लॉन्च होने वाली बीएमडब्ल्यू 5 सीरीज़ सेडान में देखा जाएगा और भविष्य में उम्मीद की जा रही है यह तकनीक वैश्विक स्तर पर बिकने वाली अन्य बीएमडब्ल्यू कार और एसयूवी में भी देखने को मिलेगी।

क्या यह तकनीक भारत आएगी?

  • भारत में यह तकनीक आएगी या नहीं इसकी पुष्टि अभी तक नहीं की गई है लेकिन उम्मीद की जा रही है कि भारत में यह तकनीक बीएमडब्ल्यू 5 सीरीज़ के साथ आ सकती है। जो अगले साल तक लॉन्च की जा सकती है।

iOS14 से एपल कार प्ले में कौन से नए फीचर्स मिलेंगे?

  • इसी इवेंट में एपल ने यह भी घोषणा की कि iOS 14 पर एपल कार प्ले में कस्टम वॉलपेपर एड करने की सुविधा, मैप्स में इलेक्ट्रिक कार चार्जिंग स्टेशन के बारे में जानकारी, पार्किंग डिटेल्स, फास्ट-फूड टेक आउट ऐप्स समेत कई सुविधाएं मिलेंगे।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सोमवार से शुरू हुई एपल की वर्ल्डवाइड डेवलपर कॉन्फ्रेंस (WWDC) में कंपनी ने एपल कार-की को iOS14 आईफोन ऑपरेटिंग सिस्टम के नए फीचर के तौर पर पेश किया


Note: This Post Credit goes to Danik Bhaskar
Subscribe to Result and Vacancy Alert by Email